Type Here to Get Search Results !

हॉस्टल अधीक्षक का आतंकः शराबखोरी कर, खाना खा रहे बच्चों से की जमकर मारपीट..

परसाबहार विकासखंड के ग्राम पंचायत दुमरिया में प्री मैट्रिक छात्रावास अधीक्षक ने शराब पीकर खूब हुड़दंग बाजी की. उन्होंने खाना खा रहे बच्चों को गंदी गंदी गालियां देकर जमकर मारपीट की और रात के अंधेरे में छात्रावास से बाहर निकाल दिया. महज 10 से 12 साल के अध्यनरत बच्चें रात के अंधेरे में रोते हुये पैदल अपने-अपने घर बले गए. इस घटना की जानकारी मिलते ही कुछ बच्चों के अभिभावक और ग्रामीण एकत्रित हुये और उन्होंने खूब नाराजगी व्यक्त करते हुये कानूनी कार्यवाही के साथ ही ऐसा कृत्य करने वाले अधीक्षक के खिलाफ जमकर हंगामा मचाया बरहाल जब मीडिया ने उनसे बात की ती उन्होंने शराब सेवन करने की बात स्वीकार को इसके साथ ही उन्होंने अपनी बात नहीं मानने पर बच्चों के पिटाई कर रात के अंधेरे में बाहर भगा देने की बात कही।

बरहाल मामले की जानकारी के बाद मंडल संयोजक लालदेव भगत घटना स्थल पर पहुँचे और उन्होंने ग्रामीणों से पंचनामा बनाकर शीर्ष अधिकारियों को प्रेषित कर कार्यवाही करने की बात कही हैं। जानकारी के अनुसार फरसाबहार विकासखंड से महज 10 किलोमीटर में संचालित यह छात्रावास में यह पहला मामला नहीं है. इसके पूर्व भी छात्रावास अधीक्षक नरसिंह मलार्ज ऐसी घटना कर चुके हैं. उसके बाद भी उन्हें पहाड़ों से घिरे छात्रावास में दायित्व दिया जाना विभागीय अधिकारियों की उदासीनता को उजागर करता हैं. बिडंबना है कि जब रात को बच्चे खाना खा रहे थे उस दौरान उनसे जमकर मारपीट के साथ रात के अंधेरे में बाहर निकाल देना. सबसे बड़ी बात तो यह है कि जो स्थानीय बच्चे हैं. वो अपने घर निकल गये लेकिन जी बच्चें दूरदराज के रहने वाले हैं. वे अपने घरों तक पहुँचे की नहीं इसकी कोई जानकारी नहीं है. इनदिनों जंगली जानवर हाथी और सर्प से लगातार घटनाएं सामने आ रही हैं. ऐसे में वे बच्चे घर पहुंचे या नहीं चिंता की विषय बना हुआ है।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

(Google Ads) Hollywood Movies