Type Here to Get Search Results !

ऑनलाइन मोड में हो सकती है नीट यूजी की परीक्षा,पेपर लीक विवाद के बीच बड़ी तैयारी में केंद्र....

 NEET UG exam can be held in online mode, Center in big preparation amid paper leak controversy....

नीट यूजी परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद कई तरह के सवाल उठे हैं। इस मुद्दे को लेकर छात्र ने सड़कों पर प्रदर्शन किया और संसद के गलियारों में भी इसकी गूंज सुन्न दी। गौर पूजी पेपर लीक पर बहुते -विवाद के बीच सरकार बड़ा कदम उत्खने जा रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगले साल से नीट यूजी का एग्जाम ऑनलाइन मोड में कराए जाने पर विचार चल रहा है। मालूम हो कि अब एक नीट की परीक्षा पेन-एंड-पेपर से होली रही है, जिसमें एमसीक्यू टाइप के प्रयन पूछे जाते हैं। मगर, आने वाले दिनों में नॉटी के लिए भी आईआईटी, जेईई मेन या बेईई एडवांस्ड जैसी कंप्यूटर आधारित परीक्षा को अपनाया जा सकता है।

After the leak of NEET UG exam paper, many questions have been raised. Students protested on the streets regarding this issue and echoed it even in the corridors of Parliament. The government is going to take a big step amid a lot of controversy over the Gaur Puji paper leak. According to the report, it is being considered to conduct the NEET UG exam in online mode from next year.It is known that now NEET exam is being conducted through pen-and-paper, in which MCQ type questions are asked. But, in the coming days, computer based examinations like IIT, JEE Main or BEE Advanced can also be adopted for Naughty.

नीट पेपर लीक को लेकर बीते हको में करीब तीन उच्च स्तरीय बैठकें हुई हैं, जहां मामले को लेकर आलग-अलग पहलुओं पर विस्तार से चचर्चा की गई। 22 जून को केंद्र सरकार की ओर से पूर्व इससे अध्यक्ष के राधाकृष्णन को अध्यक्षता में सदस्यीय पैनल का गठन किया गया। टेस्ट प्रक्रिया व डेटा सुरक्षा प्रोटोकॉल में सुधारों की सिफारिश करने और एनटीए की संरभाना व कार्यप्रणाली की समीक्षा के लिए यह कमेटी बनाई गई। गौरतलब है कि 2018 में तत्कालीन शिव मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस मामले पर बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा कि 2019 से नीट -ऑनलाइन और साल में 2 बार आयोजित किया जाएगा। हालांकि, स्वास्थ्य मंत्रालय की आपत्ति के बाद शिक्षा मंत्रालय को यह निर्णय वापस लेना पड़ा। मगर, अब सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि ऑनलाइन परीक्षा को लेकर गंभीरता से विचार किया जा रहा है।

About three high-level meetings have been held in the past regarding the NEET paper leak, where various aspects of the matter were discussed in detail. On June 22, a one-member panel was constituted by the Central Government under the chairmanship of Chairman K Radhakrishnan. This committee was formed to recommend improvements in the test process and data security protocols and to review the maintenance and functioning of NTA. It is noteworthy that in 2018, the then Shiv Minister Prakash Javadekar had given a big statement on this matter.He said that from 2019, NEET will be conducted online and twice a year. However, after the objection of the Health Ministry, the Education Ministry had to withdraw this decision. But now quoting sources it is being said that online examination is being seriously considered.

नीट पीजी परीक्षा को रिशेड्यूल करने की तैयारी

वहीं, नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन आगामी नीट पीजी परीक्षा को रिशेड्यूल करने की तैयारी में है। इसे लेकर नई तारीखों की धोषणा सोमवार या मंगलवार को हो सकती है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि एबीई अगले दो दिन के भीतर नीट पीजी के लिए नई तारीख का ऐलान करेगा। दरअसल, प्रतियोगी परीक्षाओं में कथित अनियमितताओं को लेकर विवाद काफी बड़ा हुआ है। एहतियाती कदम उठाते हुए पिछले सहा रद्द की गई परीक्षाओं में नीट-पीजी की परीक्षा भी शामिल है।

Preparation to reschedule NEET PG exam

At the same time, the National Board of Examination is preparing to reschedule the upcoming NEET PG exam. New dates regarding this may be announced on Monday or Tuesday. Union Education Minister Dharmendra Pradhan said that ABE will announce the new date for NEET PG within the next two days. In fact, there has been a huge controversy regarding alleged irregularities in competitive examinations. Taking precautionary measures, NEET-PG examination is also included in the examinations which were canceled in the past.

इस बीच,नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए ने नीट विवाद के चलते स्थगित परीक्षाओं को नई तारीखें बारी कर दी हैं। पॉइंट अब 25 से 27 जुलाई तक आगोजित की जाएगी। वहीं, स्थगित यूजीसी नेट की परीक्षा 21 अगस्त से 8 सितंबर के बीच होगी। इस साल बड़ा बदलाव यह है कि ये परीक्षाएं कंप्यूटर आधारित टेस्ट मोड में आयोजित की जाएंगी। मेरो में अबकी चार कलम और कागज का इस्तेमाल नहीं होगा। कता दें कि एनटीए की ओर से आयोजित नेशनल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट 10 जुलाई को आयोजित किया जाएगा।

Meanwhile, the National Testing Agency (NTA) has changed new dates for the exams postponed due to the NEET controversy. Now the points will be conducted from 25th to 27th July. At the same time, the postponed UGC NET exam will be held between 21st August to 8th September. The big change this year is that these examinations will be conducted in computer based test mode. Now pen and paper will not be used. The National Common Entrance Test conducted by NTA will be conducted on 10th July.

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

(Google Ads) Hollywood Movies