Type Here to Get Search Results !

बसना जगदीशपुर धान खरीदी केन्द्र मामले की अनियमितता उजागर,भौतिक सत्यापन के दौरान सरना धान कम।

नामदेव साहू 

बसना विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक शाखा पिरदा के अधीनस्थ साख सहकारी समिति जगदीशपुर पंजीयन क्रमांक 880 में हजारों क्विंटल धान कमी होने की आशंका जताते हुए क्षेत्र के किसान नेता मुंशीराम प्रधान के द्वारा तहसीलदार पिथौरा,अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पिथौरा को 8 फरवरी को भौतिक सत्यापन किये जाने आवेदन दिया गया था। एस डी एम पिथौरा के द्वारा उक्त शिकायत आवेदन के आधार पर मामले की गंभीरता को देखते हुए त्वरित संग्यान लेकर भौतिक सत्यापन हेतु निर्देश जारी किया गया था। जांच टीम में देवेन्द्र सिरमौर तहसीलदार,कमल साहू खाद्य निरीक्षक,शिवनाथ पटेल शाखा प्रबंधक पिरदा शामिल हैं। तहसीलदार सिरमौर ने जांच टीम में शामिल अधिकारियों औरशिकायत कर्ता की अनुपस्थिति में जांच करने पहुंच गये और प्रतिवेदन बनाकर सौंपने की तैयारी थी। शिकायत कर्ता की अनुपस्थिति में भौतिक सत्यापन किया जाना संदेह के दायरे में आता है। इससे साफ जाहिर होता है कि, जांच में लीपापोती की गयी है। बता दें कि,शिकायत कर्ता ने आपत्ति जताई कि,मेरी उपस्थिति के बिना जांच कैसे होगा? तहसीलदार पिथौरा के द्वारा 12 फरवरी को जांच कर कार्रवाई किये जाने का आश्वासन दिया था। परन्तु समय सीमा में जांच, कार्रवाई नहीं की गयी.. जिससे समिति प्रभारी को डिओ टिओ एडजस्टमेंट करने भरपूर मौका मिला.. जिसका फायदा उन्होंने उठाया। शिकायत कर्ता मुंशीराम प्रधान ने कहा कि,समिति प्रभारी को मिलरों से डिओ,टिओ सेंटिग कर धान को एडजस्टमेंट करने में काफी समय व सफलता मिल गई। शिकायत आवेदन दिनांक 08 फरवरी2024 को किया गया था। जिस पर अनुविभागीय अधिकारी पिथौरा द्वारा त अधीनस्थ अधिकारी तहसीलदार को जांच हेतु मार्क करने पश्चात तहसीलदार महोदय ने 20 फरवरी 2024 को याने 12 दिन बाद भौतिक सत्यापन हेतु उपार्जन केंद्र आकर सत्यापन कार्य निष्पादित किया गया। काफी विलंब से जांच होने के चलते,, समिति प्रभारी को अपने कारगुजारियो मे पर्दा डालने का बारह दिन का पर्याप्त अवसर मिल गया। समय रहते भौतिक सत्यापन किया जाता तो निश्चित रूप से सैकड़ों कट्टा धान का शार्टेज मिलता। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा पिरदा के शाखा प्रबंधक शिवनाथ पटेल ने बताया कि, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पिथौरा के द्वारा भौतिक सत्यापन हेतु जांच का आदेश जारी किया गया था। जगदीशपुर धान खरीदी केन्द्र में जांच के दौरान कुल धान 93.60 क्विंटल था जिसमें सरना धान में 66 बोरा कम पाया गया वहीं मोटा धान ज्यादा मात्रा में पाया गया। जांच के दौरान देवेंद्र सिरमौर तहसीलदार, कमल साहू खाद्य निरीक्षक, शिवनाथ पटेल शाखा प्रबंधक सहित शिकायत कर्ता मुंशीराम प्रधान उपस्थित रहे।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

(Google Ads) Hollywood Movies