Type Here to Get Search Results !

सगुना सरपंच- सचिव के गड़बड़ घोटाले परत दर परत आ रहे सामने

पेयजल व्यवस्था और नाली निर्माण के नाम पर लाखों डकारने वालों ने कागजों में कराया पुलिया, अतिरिक्त कक्ष, कमरा मरम्मत के कार्य..!फर्जी बिल वाउचर से कर रहे भारी भ्रष्टाचार, संबंधित अधिकारियों को भनक तक नही...

कविता कश्यप कोरबा 

कोरबा/पाली:- पाली ब्लाक के ग्राम पंचायत सगुना में सरपंच- सचिव फर्जी बिल वाउचर लगाकर मूलभूत, 14वें एवं 15 वित्त की राशि में भारी भ्रष्टाचार करते आ रहे है। जिनका गड़बड़ घोटाला प्याज के छिलके की भांति परत दर परत खुल रहा है। ठाड़पखना स्थित प्राथमिक शाला में 49 हजार कार्ययोजना वाले एक रनिंग वाटर स्थापना कर 80 हजार आहरण कर लेने और बगल में संचालित आंगनबाड़ी भवन तक महज पाइप लाइन विस्तार कर 90 हजार डकार लेने तथा लक्ष्मण घर के पास पेयजल व्यवस्था के नाम पर बिना कार्य 49 हजार हजम करने के साथ सगुना प्राथमिक शाला के पास से पुनीराम घर तक बगैर कार्य कराए नाली निर्माण के नाम पर 1.80 लाख व करमसिंह घर से पुलिया तक नाली निर्माण पर 1.44 लाख 15वें वित्त आयोग मद से डकारने वाले सरपंच- सचिव के और भी कारनामे सामने आए है, जिसमे पुलिया एवं अतिरिक्त कक्ष मरम्मत के नाम पर मनमाने राशि निकाल बंदरबांट किये गए। लेकिन अभी तक भ्रष्ट्राचार पर लगाम लगाने वाले अधिकारियों को इसकी भनक तक नही है। जो जानकारी हाल में सामने आयी है उसके अनुसार ठाड़पखना मुख्यमार्ग में पुलिया मरम्मत के लिए अलग- अलग तिथि में मूलभूत मद से राशि निकाली गई है। जिसके मुताबित रिचार्ज बाउचर की तिथि 25 अगस्त 2020 में 27 हजार, 07 सितंबर 2020- 22 हजार 3 सौ, 12 अक्टूबर 2020- 10 हजार व 10 नवंबर 2020 10 हजार। इसी प्रकार अतिरिक्त कक्ष, कमरा मरम्मत पर 1 मार्च 2023 की तिथि को दो किस्तो में 40 और 30 हजार और 30 मई 2023 को 35 हजार की राशि मूलभूत से निकाली है। इस प्रकार धरातल पर बिना किसी मरम्मत कार्य के फर्जी बिल के सहारे सरपंच- सचिव के मिलीभगत से 1लाख 74 हजार 3 सौ की राशि का पुलिया, अतिरिक्त कक्ष, कमरा मरम्मत के नाम पर बंदरबांट किया गया है। जिसे लेकर यहां के ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने आज तलक पुलिया, अतिरिक्त कक्ष, भवन मरम्मत के कोई भी कार्य पंचायत द्वारा कराते नही देखे है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि सरपंच- सचिव के सांठगांठ से लाखों रुपए का भ्रष्ट्राचार कर अपनी जेबें भर रहे है। ग्राम पंचायत में मूलभूत समस्याओं की ओर ध्यान न देकर लाखों का वारा- न्यारा करते आ रहे है। ग्रामीणों ने सरपंच और सचिव के फर्जीवाड़े की शिकायत जनपद व जिला अधिकारियों से करने की ठानी है।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

(Google Ads) Hollywood Movies