Type Here to Get Search Results !

कटघोरा : रेंज कार्यालय के सारे काम हो रहा रेंजर आवास में, डिप्टी रेंजर व बीट गार्ड तैयार करते प्रोजेक्ट और बनाते बिल वाउचर, कार्यालयीन कर्मचारियों को महज आवक- जावक का जिम्मा

वर्तमान डीएफओ कुमार निशांत ने अधीनस्थ अधिकारियों- कर्मचारियों के कार्यों में आयी कसावट.


कविता कश्यप जिला ब्यूरो कोरबा 

कोरबा/कटघोरा:-वनमंडल कटघोरा के वन परिक्षेत्र एतमानगर का कार्यभार देखने के साथ वन परिक्षेत्र जटगा का भी अतिरिक्त प्रभार देख रहे रेंजर मनीष सिंह विभागीय आवास में ही दफ्तर संचालित कर रहे है। जहां प्रोजेक्ट बनाने से लेकर बिल बाउचर सहित विभागीय विभिन्न कार्य इनके आवास पर ही डिप्टी रेंजर व बीट गार्डों के माध्यम से सम्पादित किये जा रहे है और कार्यलयीन कर्मचारी महज आवक- जावक का दायित्व निभा रहे है। बता दें कि रेंजर मनीष सिंह जब से एतमानगर में पदस्थ हुए है तब से लेकर आज पर्यन्त इनके द्वारा परिक्षेत्र कार्यालय में चंद समय उपस्थिति की औपचारिकता निभाई जाती है, जिस प्रक्रिया के तहत वे कुछ पल के लिए कार्यालय तो जरूर जाते है लेकिन वहां केवल आवक- जावक दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने, जिसके बाद दौरा में जाने की बात कह निकल पड़ते है। विभागीय सूत्रों ने नाम न उजागर करने की शर्त पर बताया कि रेंज में कराए गए तमाम कार्यों के भुगतान संबंधी लेखा- जोखा का काम रेंजर साहब अपने आवास पर ही निबटाते है वह भी अपने विश्वस्त कर्मचारियों के हाथों, कार्यालय केवल औपचारिकता बनकर रह गया है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि रेंजर मनीष को जिन रेंज का जिम्मा है वहां जंगल मे खूब मंगल किया गया है और सारे काम कागजों में नियम कायदे के अनुसार होना बता सके इसलिए बिल बाउचर आफिस की जगह आवास पर तैयार होता है। कटघोरा वनमंडल में तात्कालीन डीएफओ रही श्रीमती प्रेमलता यादव के कार्यकाल के दौरान पूरे डिवीजन में उनके खासम- खास बने रहने वाले रेंजर मनीष सिंह का स्थानांतरण राज्य शासन के द्वारा कवर्धा किया जा चुका है किंतु एतमानगर के साथ जटगा वन परिक्षेत्र का अतिरिक्त प्रभार सम्हाल रहे उक्त रेंजर को इन मलाईदार जगहों से काफी मोह रहा पर वर्तमान तेज- तर्रार तथा समय के काफी पाबंद डीएफओ कुमार निशांत द्वारा पदभार लेने के बाद से ही स्वयं प्रातः 10 बजे वनमंडल कार्यालय उपस्थित हो जाने के साथ ही बेलगाम हो चुके विभागीय सिस्टम में भी काफी बदलाव लाते और कड़ा रुख अपनाते हुए अधीनस्थ सभी अधिकारियों- कर्मचारियों को एक आदेश के तहत कार्यलयीन समय 10 बजे कार्यालय में उपस्थित होने के साथ विभागीय कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही व अनियमितता न बरतने हिदायत देते हुए उनके कार्यों में काफी कसावट लायी गई है। जिसके बाद से यहां का नजारा काफी बदला- बदला नजर आ रहा है और जो नौकरशाह कभी लाड साहब की तरह आफिस पहुँचते थे, आज उनकी हवाइयां उड़ने लगी है। डीएफओ ने रेंजर मनीष को भी सख्त लहजों में सारे कामकाज जल्द पूर्ण कर विभाग को सौंपते हुए कार्यमुक्त होने के निर्देश दिए है। उन्होंने पाली, कटघोरा सब डिवीजन के एसडीओ सहित सभी रेंज के रेंजरों को हिदायत दी है कि उनके कार्यकाल में किसी भी प्रकार की कोताही व भर्राशाही कतई बर्दास्त नही होगी और सीधे तौर पर कार्यवाही की जाएगी। उनका कहना है कि शासन ने हमे जो जिम्मेदारी सौंपी है उनका सही तरीके से निर्वहन हो सके और कार्यों में पारदर्शिता हो तो योजनाएं धरातल पर दिखती है।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.