Type Here to Get Search Results !

CG= गरीबों को मिलने वाला अनाज पर सरपंच सचिव ने डाला डाका

                             

पत्थलगांव= लगातार राशन वितरण मे अनियमिता और गड़बड़ी को लेकर पत्थलगांव ब्लॉक अंतर्गत आने वाला ग्राम पंचायत पतरापाली हमेशा से सुर्खियों मे रहा है। ममाले में मिली जानकारी अनुसार शासकीय उचित मूल्य की दुकान पतरापाली पर हितग्राहियो ने गंभीर आरोप लगाते हुए पत्थलगांव अनुविभागीय अधिकारी आकांक्षा त्रिपाठी के समक्ष पहुंच सैकड़ो ग्रामीण सहित महिलाओं ने आरोप लगाया है कि सरपंच भागीरथी सचिव लोहरसाय के द्वारा विगत कई महीनो से गरीबों को मिलने वाला अनाज ,चना, शक्कर, वितरण में भारी अनियमता और मनमानी कर रहे हैं। जिसमें राशन कार्ड धारकों ने बताया की उनके द्वारा पिछले दो महीनों से लाभुकों को अनाज समय पर नही दीया जाता है। और उनके द्वारा अपने हक का अनाज मांगने पर उल्टा धमकाया जाता है। उक्त मामले में बताया जा रहा है। कि ग्राम सचिवालय ग्राम पंचायत में हमेशा ताला लटके पाए जाते हैं। और सचिव  हमेशा पंचायत से नदारत रहते हैं। जिससे यह अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं होगा की पंच परमेश्वर और पंचायत को पंचायती राज देखने का सपना को इनके द्वारा किस हद तार तार किया जा रहा है।इस पर अंदाजा लगाया जा सकता है यह अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है की सरपंच सचिव अपने पद का निर्वहन कितने ईमानदारी से निभा रहे हैं। और ये भी देखना होगा कि जो अपने पद पावर का गलत उपयोग करते पाए जाने पर सासन ऐसे लोगों पर क्या रूक अख्तियार करते हैं ।या गरीबों का डाका डालने वाले सरपंच सचिव को इस बार भी हर बार के तरह आते हैं किसी बड़े नेता के सिफारिस पर खाना पूर्ति कर छोड़ दिया जाएगा।यह भी इक सवालिया निशान है। क्योंकि पहले भी इस पंचायत के द्वारा राशन वितरण के लिए गंभीर आरोप लगते आए हैं जिसपर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।जिसकी शिकायत पूर्व में भी लोगों के द्वारा दी जाती गई थी। लेकिन मामले में सरपंच सचिव के मनमानी इस कदर बड़ गया की हर बार उनके बातों को नजरंदाज कर मनमानी तरीके से कार्ड धारकों को समय पर अनाज नही मिलता है।और ऐसी स्थिति में गरीबों को अनाज नही मिलने पर भूखे मरने की स्तिथि आ जाती है। जिससे गुस्साए ग्रामीणों ने आज लांमबंध होकर सरपंच सचिव के खिलाफ़ नारे लगाते एस डी एम कार्यालय शिकायत के लिए पहुंच गए। मामले में लोगों का कहना है सरपंच सचिव के हौसले इस कदर बुलंद है वे अपनी मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं जिसमें ग्रामीणों का आरोप है कि वे अपने मनमानी तरीके से हितग्राहियों को राशन वितरण करते हैं वितरण करते हैं जिसकी कोई तिधी समय निर्धारित नही है। 

लोगों का कहना है सचिव सरपंच पिछले कई महीनो का राशन को डकार मार गए है। लोगों का कहना है इस मामले में हद तो तब हो गई जब लगातार दो महीने से हितग्राहियों को चावल नहि वितरण किया गया और उन्हें खाली हाथ हर बार राशन दुकान से वापस जाना हुवा ।और उनको खाने के लाले पड़ने लगे। जिसके बाद सैकड़ो महिला पुरुष सहित सरपंच सचिव हाय हाय के नारे लगाते अपनी गुहार लगाने एसडीएम कार्यालय पहुंचे।मामले में अनुविभागीय अधिकारी आकांक्षा त्रिपाठी ने ग्रामीणों को  आश्वासन देते हुवे कहा है की मामले की जांच टीम गठित कर जल्द से जल्द कार्यवाही किया जाएगा और दोषी पाए जाने पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.