Type Here to Get Search Results !

स्नेह यात्रा का हुआ समापन स्वामी श्री 1008 शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज की गरिमामयी उपस्थिति में हुआ

गोटेंगाव चल रही स्नेह यात्रा का समापन शनिवार 26 अगस्त को गोटेगांव विकासखंड के ग्राम झौंतेश्वर में परमहंसी गंगा आश्रम में ज्योतिपीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी श्री 1008 अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज की गरिमामयी उपस्थिति मे हुआ। शंकराचार्य जी ने यात्रा के पवित्र उद्देश्यों के लिए शुभकामनाएं दी तथा ऐसी यात्राएं होती रहें ऐसी कामना की।

इस अवसर पर जिले में यात्रा का नेतृत्व कर रहे पूज्य महंत श्री बालक दास जी महाराज, मध्यप्रदेश जनअभियान परिषद के उपाध्यक्ष (राज्य मंत्री दर्जा) डॉ. जितेन्द्र जामदार, संभाग समन्वयक श्री रवि वर्मन, योग आयोग समिति, विश्व गायत्री परिवार, पतंजलि समिति एवं जिले के मप्र जनअभियान परिषद के समन्वयकों, नवांकुर संस्था प्रतिनिधि, परामर्शदाता, छात्र व ग्राम विकास प्रस्फुटन समितियों के सदस्यों और नागरिक मौजूद थे। डॉ. जामदार ने कहा कि आज यह यात्रा को स्वामी श्री अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज का स्नेह मिला है। इस स्नेह यात्रा को निकालने का विचार अद्भुत है। उन्होंने कहा कि हम इतिहास में पढ़ते हैं कि मोर्य शासक सम्राट अशोक ने अपने पुत्र, पुत्री एवं भिक्षुओं को बौद्ध धर्म का प्रचार करने के लिए भारत एवं श्रीलंका के अनेक स्थानों पर भेजा था। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में यह यात्रा सम्पूर्ण प्रदेश में निकाली गई है। इसमें जनअभियान परिषद की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। यह यात्रा जिले के गांव में गई और यहां समरसता का संदेश दिया।

उल्लेखनीय है कि जिले में 11 दिवस चली यह यात्रा 6 विकासखंड के 110 ग्राम एवं नगर के वार्डों में पहुंची। इसके 102 जनसंवाद कार्यक्रम आयोजित किये गये, जिसमें लगभग 29 हजार लोगों ने अपनी सहभागिता की। 16 सामाजिक- धार्मिक संस्थायें एवं पूज्य संत, नवांकुर संस्था, ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति के सदस्य शामिल हुए।

 गोटेंगाव से मनीष मिश्रा

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.