Type Here to Get Search Results !

MP= भगवान् को मन समर्पित करें,शङ्कराचार्य अविमुक्तेश्वरानन्दः सरस्वती

गोटेंगाव= भगवान् सर्वसमर्थ हैं। उनके पास सब कुछ है। इसलिए यदि कोई भगवान् को कुछ देना चाहे तो क्या दे सकता है? जिसके पास जो न हो वह वस्तु देने पर उसे प्रसन्नता होती है। अतः एक भक्त ने यह विचार किया तो उसे पता चल गया कि भगवान् के पास धन, सम्पत्ति और समस्त ऐश्वर्य तो है पर उनके पास मन नहीं है। क्योंकि उनका मन तो राधाजी, गोपियों और भक्तों ने चुरा लिया है। इसलिए भगवान् को यदि देना ही है कुछ तो मन समर्पित करना चाहिए। मन के समर्पण से भगवान् प्रसन्न हो जाते हैं।

उक्त उद्गार परमाराध्य परमधर्माधीश उत्तराम्नाय ज्योतिष्पीठाधीश्वर जगद्गुरु शङ्कराचार्य स्वामिश्रीः अविमुक्तेश्वरानन्दः सरस्वती '१००८' ने चातुर्मास्य प्रवचन के अवसर पर कही। 

उन्होंने कहा कि आसक्ति और भक्ति में अन्तर यही है कि आसक्ति हमें बन्धन में बांधती है और भक्ति हमें भव-बन्धन से छुडाती है।

आगे कहा कि धन सम्पत्ति का संग्रह करना अन्ततः कष्टप्रद है। इसलिए धर्मशास्त्रों ने आवश्यकता से अधिक संग्रह करने की मनाही है। 

पूज्यपाद शङ्कराचार्य जी के प्रवचन के पूर्व

।आज की श्री मद भागवत कथा ध्रुव कथा के मुख्य यजमान भगवानदास ठाकुर श्री मति भारती ठाकुर,श्री संतशरण ठाकुर रहे इन्होंने पादुका पूजन भी किया इनके साथ श्री मति लक्ष्मी शर्मा घंसौर,रवि शंकर प्रिया गुमास्ता,घंसौर ने भी पादुका पूजन भी किया

भजनों की प्रस्तुति 

 राधेश्याम सेन,दुर्गा प्रसाद रजक,गेंदालाल रजक,चिगड़ी भजन मंडली ने दी प्रस्तुति

मंच पर प्रमुख रूप से, शंकराचार्य जी महाराज के निजी सचिव चातुर्मास्य समारोह समिति के अध्यक्ष *ब्रह्मचारी सुबुद्धानन्द जी, ज्योतिष्पीठ पण्डित आचार्य रविशंकर द्विवेदी, शास्त्री जी, गुरुकुल संस्कृत विद्यालय के उप प्राचार्य पं राजेन्द्र शास्त्री जी, ब्रह्मचारी निर्विकल्पस्वरूप जी** आदि ने अपने विचार व्यक्त किए। मंच का संयोजन *श्री अरविन्द मिश्र* एवं संचालन ब्रह्मचारी ब्रह्मविद्यानन्द जी ने किया, परमहंसी गंगा आश्रम व्यवस्थापक सुंदर पांडे ।


कार्यक्रम में मुख्य रूप से ब्रम्हचारी अचलानंद जी पंडित आनंद तिवारी अन्नू भैया पंडित हीरा महराज सोहन तिवारी माधव शर्मा रघुवीर प्रसाद तिवारी राजकुमार तिवारी पंडित आनंद उपाध्याय धीरेन्द्र गर्ग,श्री मति ममता गर्ग जबलपुर दिलीप मानसाता,चौधरी विकास जैन, महेंद्र नागेश टिंकू अग्रवाल,लक्ष्मी नारायण तिवारी,बाबा पटैल,नरेश दुबे, बद्री चौकसे,नारायण गुप्ता ,आशीष तिवारी,प्रेम नारायण पाराशर, विवेक नामदेव,वसंत पांडे,राजाराम पटेल ,रामजी पटेल,आशीष तिवारी,केजरीवाल जी,मनोज यादव,जगदीश पटैल,बंटी अग्रवाल,अन्नू राय,राकेश शर्मा,रामकिशोर दीक्षित,रघुनाथ राय अरविन्द पटेल , राजाराम पटेल मनोज यादव कपिल नायक सहित बड़ी संख्या में गुरु भक्तों की उपस्थिति रही हैै भागवत कथा आरती के उपरांत प्रसाद का वितरण किया गया

चातुर्मास्य के अवसर पर पूज्य शङ्कराचार्य जी महाराज का गीता पर प्रवचन प्रातः 7.30 से 8.30 बजे तक भगवती राजराजेश्वरी मन्दिर में होता है जिसका प्रसारण 1008.guru यू ट्यूब चैनल पर प्रतिदिन होता है।

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने लिया जगतगुरु शंकराचार्य जी महाराज का आशीर्वाद

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण एवं जल शक्ति मंत्री, प्रहलाद पटेल गोटेगांव के परमहंसी गंगा आश्रम पहुंचे, जहां पर उन्होंने सर्वप्रथम मां राज राजेश्वरी त्रिपुर सुंदरी माता का पूजन अर्चन कर दर्शन किया एवं मां जगत जननी का आशीर्वाद लिया उसके पश्चात वह ब्रह्मलीन जगतगुरु शंकराचार्य महाराज के समाधि स्थल पर पहुंचे जहां पर उन्होंने परम पूज्य शंकराचार्य जी महाराज का पूजन अर्चन किया एवं समाधि स्थल के कार्य को देखा उसके पश्चात मंत्री जी त्रिपुरालय पहुंचे जहां पर उन्होंनेर्य ज्योतिष पीठाधीश्वर स्वामी श्री अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज का आशीर्वाद लिया एवं एवं पूज्य शंकराचार्य महाराज से नरसिंहपुर मंगलम एवं जन शताब्दी महोत्सव को लेकर वार्तालाप की केंद्रीय मंत्री, प्रहलाद सिंह पटेल के साथ, पूर्व विधायक हाकम सिंह चढ़ार, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष राजकुमार जैन, पूर्व जनपद अध्यक्ष संतोष दुबे, पंकज चौकसे राजकुमार जैन,महेंद्र नागेश, निधान सिंह पटेल, दीपक सोनी जितेंद्र ठाकुर सतीश पटेल शक्ति राजपूत , और भी ग्रामीण क्षेत्रों एवं नगर के कार्यकर्ता गण उपस्थित रहे इन्होंने भी परम पूज्य शंकराचार्य महाराज का आशीर्वाद लिया। 

 गोटेंगाव से मनीष मिश्रा

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.