Type Here to Get Search Results !

रोजगार मांगने युवक पहुंचा CM के घर : देखें पूरी खबर

रोजगार मांगने युवक पहुंचा CM के घर : भूपेश बघेल ने कलेक्टर को दिए निर्देश, मुख्यमंत्री की पत्नी और बेटे ने युवक को कराया जलपान, घर जाने के इंतजाम भी किए

पत्थलगांव विकासखंड के गांव बगईझरियां का एक युवक दीपक यादव अपनी समस्या का निदान कराने सीधे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास जा पहुंचा. युवक की सरलता को देखकर मुख्यमंत्री की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल ने भी काफी सहजता के साथ उसकी बातें सुनकर न केवल मुख्यमंत्री से मुलाकात कराने में मदद की बल्कि घर में जलपान कराकर वापस घर भेजने के भी इंतजाम किए.पत्थलगांव का यह युवक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कामकाज से प्रभावित होकर रविवार की दोपहर भिलाई स्थित कैंप आफिस पहुंचा और सुरक्षा कर्मियों से मुख्यमंत्री से मिलने का आग्रह किया. इस युवक से पूछने पर उसने बताया कि गांव के लोगों ने कहा है कि मुख्यमंत्री कार्यालय में अपनी समस्या रखो, उसका अवश्य हल होगा. युवक की समस्या की जानकारी सुरक्षाकर्मियों ने मुख्यमंत्री के परिजनों और मुख्यमंत्री के ओएसडी मनीष बंछोर को दी. उन्होंने युवक को अंदर बुलाया. मुख्यमंत्री की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल एवं पुत्र चैतन्य बघेल युवक से मिले. युवक ने उन्हें समस्या बताई.

युवक ने बताया कि जब उसने मुख्यमंत्री से मिलने के लिए उनके घर आने की बात अपने दोस्तों को बताई तो वे हंस दिए. गांव से पत्थलगांव और फिर बस से भिलाई पहुंच गया, फिर पावर हाउस स्टेशन उतरकर भिलाई आया. इसके बाद मुख्यमंत्री के परिजनों ने युवक से बातचीत की और समस्या जानी. उस दिन मुख्यमंत्री का कार्यक्रम पाटन में था. मुख्यमंत्री के ओएसडी इस युवक को अपने साथ लेकर पाटन गए और वहां पर मुख्यमंत्री से मिलाया.मुख्यमंत्री ने युवक से समस्या जानी और जशपुर कलेक्टर को युवक की समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए. दीपक यादव ने अपनी समस्या के समाधान के लिए सीएम का आभार जताया और कहा कि इतनी दूर की मेरी यात्रा पूरी तरह से सफल हो गई.

सीएम के परिवार ने भी मदद के लिए बढ़ाया हाथ= युवक दीपक यादव ने बताया कि वापस भिलाई आकर उसको सीएम की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल और पुत्र चैतन्य बघेल से मिलने का भी मौका मिला. उन्होंने एक गार्जियन की तरह मुझे बैठाया और हालचाल पूछा. मुझे लगा कि मेरा न सिर्फ आना सफल रहा बल्कि भविष्य को लेकर जो सपने कहीं खो गए थे, वो भी जिंदा हो उठे. वापस गांव जाने के लिए बस के टिकट की व्यवस्था भी करवाई गई. साथ में सीएम की बड़ी पुत्री स्मिता बघेल ने रास्ते के लिए खाने-पीने का सामान भी दिया. उन्होंने जीवन में मन लगाकर काम करने और एक बेहतर मुकाम हासिल करने शुभकामनाएं दी.

युवक के रोजगार के लिए निर्देश दिया है : कलेक्टर= इस संबंध में जब जशपुर कलेक्टर डा. रवि मित्तल से बात हुई तो उन्होंने बताया कि लड़के को रोजगार देने जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिया है. दीपक यादव को अब रोजगार की चिंता करने की जरूरत नहीं है. उसकी मदद के लिए उचित व्यवस्था की जा रही है.

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.