Type Here to Get Search Results !

रकबा त्रुटि के चलते हजारों किसान परेशान, भाजयुमो ने किया जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग

                                     

नामदेव साहू छत्तीसगढ़ संपादक 

महासमुंद= भारतीय जनता युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष जसराज चंद्राकर बाला ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए प्रदेश की भूपेश सरकार को किसानों को रकबा त्रुटि के चलते धान बेचने में हो रही दिक्कत के लिए जमकर कोसा है । महासमुंद जिले में हजारों की संख्या में किसान अपने रकबा में सुधार के लिए तहसील कार्यालय का चक्कर कांट रहे हैं जबकि प्रदेश में धान खरीदी प्रारंभ हुये आज दस दिन बीत चुके है । भाजयुमो जिलाध्यक्ष जसराज चंद्राकर बाला ने प्रदेश सरकार पर श्रेय लेने के लिए बिना तैयारी के धान खरीदी करने का आरोप लगाते हुये कहा कि पिछले साल धान बेचने में किसानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था. जिससे प्रदेश सरकार के किसान विरोधी होने का पोल खुला था । जिससे घबराकर इस बार कांग्रेस सरकार ने आनन-फानन मे बिना प्रशासनिक तैयारी के धान खरीदी का फैसला लिया था। जिसका परिणाम महासमुंद जिले के हजारों किसानों को भुगतना पड़ रहा है जो प्रशासनिक लापरवाही के चलते धान बेचने से वंचित हो रहे है।

 भाजयुमो जिलाध्यक्ष जसराज चंद्राकर बाला ने बताया कि कृषि एवं खाद्य विभाग द्वारा लापरवाही पूर्वक कार्य करते हुए किसानों के रकबा का गलत मैपिंग किया, जिसके कारण सहकारी समितियों मे अनेक गांवों के किसानों का रकबा दूसरे गांवों के किसानों के नाम पर पंजीयन दिखा रहा है । पडकीपाली सेनभांठा डोकरपाली, खट्टी, डोंगरीपाली सोनदादर सहित अनेक गांव इसके प्रत्यक्ष उदाहरण है । जिससे महासमुंद जिले में हजारों किसान पिछले दस दिनों से धान बेचने से वंचित हो रहे हैं । भाजयुमो जिलाध्यक्ष जसराज चंद्राकर बाला ने जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि गलत मैपिंग के लिए जिम्मेदार अधिकारी- कर्मचारियों पर कार्य में लापरवाही बरतने हेतु तत्काल उनके ऊपर कार्यवाही करे

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.