Type Here to Get Search Results !

सरायपाली के शव विच्छेदन गृह को शहर के बहर करने की मांग

महासमुंद= सरायपाली स्व मोहनलाल चौधरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरायपाली के पीछे तत्कालीन बीएमओ द्वारा अविवेक पूर्ण स्थान का चयन कर पोस्ट मॉर्टम भवन का निर्माण स्टॉफ क्वार्टर से लगभग 25 फीट की दूरी पर बनवाया गया है, जिसकी बड़ी बड़ी खुली हुई खिड़की, बिना बॉउंड्रीवाल के भवन, पोस्ट मार्टम के दौरान स्टॉफ क्वार्टर के लोगों को पोस्ट मार्टम प्रक्रिया दिखाने व शव के परिजनों को मोबाइल वीडियोग्राफी के लिए आमंत्रण देता हुआ प्रतीत होता है। कुछ माह पूर्व आनन फानन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा पोस्ट मार्टम रूम में शव विच्छेदन का कार्य प्रारंभ किए जाने की तैयारी हो चुकी थी, तब स्टॉफ कॉलोनी वालों द्वारा एसडीएम नम्रता जैन के संज्ञान में लाने पर इसमें रोक लगाया गया था। 

एसडीएम द्वारा स्थल चयन पर आश्चर्य व्यक्त किया गया था। कहीं भी पोस्ट मॉर्टम भवन बनाया जाता है, तो उसे शहर से बाहर या रिहायशी इलाके से दूर बनाया जाता है, परंतु सरायपाली में इसके विपरित निर्माण किया गया है। पोस्ट मार्टम रूम से उठने वाली गया है। दुर्गन्ध व शव परिवहन से छोटे छोटे बच्चों के मन मस्तिष्क पर बुरा असर पड़ सकता है। वहीं सड़े गले व संक्रमित शव का पोस्ट मार्टम करने पर उससे इंफेक्शन फैलने का खतरा बना रहेगा, जिससे कालोनी निवासी व आम नागरिक भयभीत हैं। ताज्जुब तब होता है जब शासकीय हैलीपैड से लगभग 100 फीट के दूरी पर ही पोस्ट मार्टम भवन का निर्माण किया गया है और उस वक्त किसी भी व्यक्ति ने इसका विरोध नहीं किया। सरायपाली की आम जनता एवं स्टॉफ कॉलोनी निवासी कर्मचारियों ने उपरोक्त भवन का उपयोग अन्य कार्य में करने एवं शहर से दूर पुराने बिल्डिंग में ही पोस्ट मार्टम जारी रखने का अनुरोध शासन प्रशासन से किया।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.