Type Here to Get Search Results !

महासमुंद जिले में बाहरी धान की घुसपैठ रोकने बनाये गये 17 नाके चेक पोस्ट पर तैनात टीमों को होगी सख्त कार्रवाई का अधिकार जाने कहां कहां होंगे चेक नाके

 जिले में बाहरी धान की घुसपैठ रोकने बनाये गये 17 नाके लगभग 86 लाख क्विंटल खरीदी का लक्ष्य पोस्ट पर तैनात टीमों को होगी सख्त कार्वई का अधिकार 

महासमुंद= खरीफ वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन अवधि के दौरान सीमावर्ती राज्य एवं अन्य राज्यों से अवैध रूप से राज्य के धान उपार्जन केन्द्रों में विक्रय के लिए आने वाले अवैध धान परिवहन की रोकथाम एवं कार्यवाही हेतु महासमुंद जिले में 17 जांच चौकी (चेक पोस्ट) बनाए गए है। इन सभी चेकपोस्टों पर खासकर पड़ोसी राज्यों से धान के अवैध परिवहन पर कड़ाई से अंकुश लगाने के लिए कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने जिले में बनायी गई सभी जांच चौकियों पर प्रभारी अधिकारी और कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गई है। ड्यूटी संबंधी आदेश कार्यालय कलेक्टर खाद्य शाखा महासमुंद से जारी कर दिए है। प्रदेश में किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी आगामी 01 नवंबर से प्रारम्भ हो रही है। महासमुंद ज़िले में इस वर्ष किसानों से समर्थन मूल्य पर लगभग 86 लाख क्विंटल से ज्यादा धान खरीदने का अनुमान है।


बनाई गई जांच चौकियों में सरायपाली में 05 इनमें बंजारी, पालीडीह/सिरपुर, पझरापाली, जंगलबेड़ा एवं छिबर्रा, बसना तहसील में 04 चौकियां इनमें गढ़फुलझर, पलसापाली, केरामुड़ा/कुदारीबाहरा एवं साल्हेझरिया है। इसी तहर पिथौरा में 03 कटंगतराई, छोटेलोरम/लारीपुर एवं चरोदा जांच चौकी में ड्यूटी लगाई गई है। बागबाहरा तहसील में 05 चौकियां टेमरी, नर्रा, खेमड़ा, खट्टी एवं रेवा में प्रभारी अधिकारी और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। कलेक्टर  ने राज्य शासन खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्रालय के निर्देशानुसार इन सभी चेकपोस्टों पर कड़ी निगरानी सुनिश्चित करने और धान का अवैध परिवहन करने वाले पर कठोरता से कार्यवाही करने कहा है। उन्होंने कहा कि जिले के किसी भी किसान को धान परिवहन के दौरान किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.