Type Here to Get Search Results !

महासमुंद: शिक्षक पहुंचा KBC जाने स्टोरी

महासमुंद। पिथौरा के दुलीचंद अग्रवाल उर्फ दुलारा का KBC के हॉटसीट पर पहुंचने का सपना आखिरकार 21 सालों के भारी प्रयास बाद सफल हो गया। दुलीचंद अग्रवाल वर्तमान में शासकीय कन्या महाविद्यालय दुर्ग में प्राध्यापक पद पर कार्यरत हैं. उनके भतीजा पियूष अग्रवाल ने बताया कि उनके चाचा 19 एवं 21 जुलाई को मुंबई से कौन बनेगा करोड़पति की शुटिंग पूरी कर लौटे हैं. फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट की प्रक्रिया में वे पहले ही प्रयास में अमिताभ बच्चन के सामने KBC हॉटसीट पर पहुंच गए.

 पियूष अग्रवाल के अनुसार,  8 अगस्त को आने वाले एपिसोड की प्रारंभ उनके चाचा के बचपन से होता है. जब अमिताभ बच्चन उनसे पूछते हैं कि दुलीचंद नाम का क्या अर्थ है. यही पर उन्होंने अपने बचपन के बारे में और पिथौरा के बारे में तथा अपने परिवार के बारे में बच्चन साहब (Amitabh Bachchan) से चर्चा की है. बच्चन साहब के प्रति उनकी दीवानगी की भी चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि वे 1975 में किस तरह बिना बताए महासमुंद उनकी फिल्म दीवार देखने पहुंच गए थे. 1978 में मुकद्दर का सिकंदर फिल्म के दौरान दुलीचंद अग्रवाल के साथ हुए हादसे से बच्चन साहब बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने दुलीचंद अग्रवाल को यादगार चीज भी दी.


इस फिल्म की घटना का उल्लेख बच्चन साहब ने अपने ब्लॉग में भी विस्तृत रूप से किया. सेट पर पर छत्तीसगढ़ की कला, संस्कृति के अलावा दुलीचंद की कुछ खास बातें भी जानने को मिली. शुटिंग के दौरान उनकी पत्नी प्रोफेसर शिखा अग्रवाल, बहन रमन्ता मित्तल, पुत्र एडवोकेट प्रसून एवं पुत्रवधु एडवोकेट अदिति उनके साथ थे. दुलीचंद ने सभी पिथौरावासियों को साधुवाद दिया है कि सबकी सद्भावना से वे इस मुकाम तक पहुंचे हैं. वे नगर के लक्ष्मीनारायण अग्रवाल के छोटे भाई और शैलेष, पियूष अग्रवाल के चाचा हैं





Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.