Type Here to Get Search Results !

इमानदारी आज भी जिंदा है= जगदलपुर

हरि सिंह ठाकुर जिला ब्यूरो बस्तर
जगदलपुर = आमतौर पर देखा जाता है कि किसी की गुमी हुई चीज यदि किसी को मिल जाए तो वह अपना समझ के रख लेता है लेकिन जगदलपुर के लोगों ने कई मिसाले पेश की है आज भी एक मामला देखने को मिला है जगदलपुर बालाजी वार्ड की रहने वाली शीला नेताम किसी काम से झनकार टाकिज चौक गई हुई थी तभी उनकी नजर एक छोटे से बैग पर पड़ी जिस पर ज्वेलर्स लिखा हुआ था महिला ने अपनी गाड़ी रोकी और उस को उठाया और खोलकर देखा उस बैग में दो सोने की झुमका  था उन्होंने इधर उधर देखा इसके बाद वह सीधे कोतवाली थाने पहुंचकर थाना प्रभारी एमन साहू को पूरा वाक्य बताया  व झुमका वाला बैग थाना प्रभारी को सुपुत्र कर दिया कुछ ही देर बाद जिस महिला का सामान घुमा था वह भी कोतवाली  थाना पहुंच गई 

और उस महिला ने थाना प्रभारी को आपबीती बात बताई उन्होंने उस महिला को वह सोने का झुमका दिखाया तो वह पहचान गई तब थाना प्रभारी ने शीला नेताम को बुलवाया और उन्हीं के हाथ से सोने के झुमके उस महिला को वापस दिलाएं घुमा हुआ सोना पाते ही महिला के चेहरे पर खुशी देखने को मिली यदि इसी प्रकार हर व्यक्ति अपना दायित्व निभाए तो लोगों के गुम हुए सामान मिल सकते इसीलिए कहते हैं इमानदारी  व इंसानियत आज भी जिंदा है गुम हुए झुमका पाने के बाद शांतिनगर निवासी शीतल श्रीवास्तव ने बस्तर पुलिस  के साथ थाना प्रभारी एमन साहू व शीला नेताम को बहुत-बहुत धन्यवाद ज्ञापित किया।


Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.