Type Here to Get Search Results !

वृद्धा की हत्या करने वाले 2 आरोपी गिरफतार= पैसे के लिए रचा था षड्यंत्र

पैसों के लिये षडयंत्र रचकर वृद्धा की हत्या 

महासमुंद= बीते 28-29 अगस्त की दरम्यानी रात बसना थाना क्षेत्र के ग्राम खेमडा में 77 वर्षीय वृद्धा की हत्या करने वाले 2 आरोपियों को पुलिस ने 48 घंटे में धर दबोचा। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि पैसों के लालच में उनके द्वारा हत्या के अपराध को अंजाम दिया गया है। जिला पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा इस मामले में थाना बसना व सायबर सेल की टीम एवं फॉरेंसिक टीम रायपुर को घटना स्थल पर पहुंचकर बारिकी से जांच करने हेतु निर्देशित किया गया।

सायबर सेल की टीम व थाना बसना पुलिस की टीम घटना स्थल मौका पहुच कर घटना निरीक्षण कर मृतक के बारे में अलग-अलग टीम गठित कर छोटी सी छोटी जानकारी एवं परिवार संबंधि, भूमि बटवारा संबंधि एवं मृतक के निजी जीवन के संबंध में जानकारी एकत्र किया गया। जॉच दौरान पता चला कि खीरबाई गांव में एफसीआई गोदाम में रोड रोड किनारे एक झोपडीनुमा हॉटल खोली थी जहॉ मृतिका रात में सोती थी। खीरबाई का पुत्र सुशील राणा का काम गाज बंद होने से आर्थिक रूप से परेशान था  मृतिका का पुत्र रोहित किसी प्रकरण में जेल बंद है जिसे छुडाने के लिए वह भीख मांग कर पैसा इकठ्ठा कर रही थी। 

इसके साथ कुष्टो यादव भी भीख मांगकर जीवनयापन करता है। सुशील राणा व कुष्टो यादव दोनो जान पहचान के है। पुलिस की टीम द्वारा दोनो व्यक्ति पर संदेह जाहिर करते हुये संदेही सुशील राण व कुष्टो यादव को पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ करना प्रारंभ किया गया। जिस पर संदेहीयों द्वारा पुलिस को मनगणहंत बाते कहकर गोल मोल जवाब देने लगे। उसके बाद पुलिस ने जब कड़ा रवैया अख्तियार किया तो आरोपी टूट गये और अपराध करना स्वीकार किया। 


आरोपियों ने बताया कि विशाखा भोई अपने गले में एक छोटा कपडा का थैला लटका के रखती थी जिसमें भीख मांग मांग कर पैसा इकठ्ठा करती थी एवं गले में ही लटकाये रहती थी विशाखा भोई का लडका रोहित जेल में है जिसे छुडाने के लिये विशाखा भोई पैसा इक्कठ्ठा कर थी जिसे हम दोनो देखे भी थे करीबन 05 हजार रूपये को थैले में ही रखी हुई थी दिनांक 28.08.2022 को हम दोनो विशाखा भोई से पैसा लेने का चर्चा किये थे तथा रात्रि 10-11 बजे हॉटल के पास मिलने का बात हुआ था रात्रि करीबन 11 बजे हॉटल के पास खडे थे हॉटल के अन्दर विशाखा भोई लकडी के पाटा के उपर सोई थी। पानी गिरने के वजह से रास्ता सुनसान था सुनसान देखकर हॉटल में लगे पर्दानुमा खेट को हटाकर हम दोनो अन्दर प्रवेश किये। देखे विशाखा भोई सो रही थी एवं उसकी सीर के पास कपडा का पैसा वाला थैरा रखा था 

तथा दूसरे साईड में एक गमछा पडा था पैसा निकालने से जग जायेगी सोचकर सुशील राणा के द्वारा गमछा से अचानक मृतिका के गले में गले बांध कर खिच दिया तथा कुष्टो यादव के द्वारा मृतिका विशाखा भोई के पैर को पकडा था जिससे कुछ ही समय में विशाखा भोई की मृत्यु हो गई। और कपडे में बंधे पैसा को लेकर वहा से फरार हो गये और पैसे को आपस में बाट लिये। बटवारे में मिले नगदी 5000 रूपये को घर में छुपाकर रखना स्वीकार किया। आरोपीगण के कब्जे से नगदी रकम 5000 रूपये को जप्त कर आरोपी (01) सुशील राणा पिता स्व. नित्यानंद राणा उम्र 23 वर्ष सा. ग्राम खेमडा बसना महासमुन्द तथा (02) कुष्टो यादव पिता धनुर्जय यादव उम्र 40 वर्ष सा. ग्राम खेमडा बसना महासमुन्द के विरूध्द अपराध 457/22 धारा 302 भादवि के तहत् थाना बसना में कार्यवाही गई। 

यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के मार्गदर्शन में अति. पुलिस अधीक्षक आकाश राव एवं अनु.अधिकारी सरायपाली विकास पाटले के निर्देशन मे थाना प्रभारी बसना निरीक्षक कुमारी चन्द्राकर सउनि. विजय मिश्रा, आर. सूरज निराला, किशोर साहू, नरेश बरिहा, कौशल ध्रुव, खगेश ध्रुव द्वारा की गई।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.