Type Here to Get Search Results !

नानपुर के साईं धाम पर गुरु पूर्णिमा उत्सव पर होंगे अनेक आयोजन धार्मिक अनुष्ठान के साथ रक्तदान व पौधरोपण भी होगा।

नानपुर  = खंडवा बड़ोदा मार्ग पर स्थित साईधाम पर गुरुपूर्णिमा के अवसर पर अनेक आयोजन किये जायँगे !दो वर्ष बाद कोरोना काल के बाद इस मंदिर पर वृह्द कार्यक्रम की रुपरेखा बनाई गई है 

गुरु पूर्णिमा उत्सव एवं साईं मंदिर के छठवें स्थापना महोत्सव कार्यक्रम में इस बार श्रद्धालुओं में खासा उत्साह है। हर बार की तरह 13जुलाई बुधवार को अल सुबह से देर रात तक गुरु पूर्णिमा के अवसर पर अनेक आयोजन किए जा रहे हैं।

आयोजन समिति   के प्रदीप क्षीरसागर  ने बताया कि खंडवा बड़ौदा मार्ग स्थित बड़े साईं मंदिर पर गुरु पूर्णिमा एवं मंदिर के छठवें स्थापना महोउत्सव को लेकर के सुबह से देर रात्रि तक अनेक कार्यक्रम रखे गए हैं। जिसमें सुबह  5:30 बजे काकड़ आरती व अभिषेक किया जाएगा । 7:30 बजे मंगला आरती के बाद विभिन्न अनुष्ठान एवं यज्ञ, पूजन का आयोजन  किया जाएगा। प्रातः 9:00 गांधी चौराहे पर स्थित छोटे साईं मंदिर में साई बाबा की संगीतमई आरती-प्रसादी के बाद भव्य व विशाल साईं पालकी एवं शोभायात्रा निकाली जाएगी। शोभायात्रा के अंतर्गत ढोल ताशे ,बैंड एवं पुष्प वर्षा के साथ साईं पालकी विशेष आकर्षण का केंद्र रहेगी ।विशेष सुगन्धित धूनी से शोभायात्रा महकती रहेगी । पालकी व शोभा यात्रा में श्रद्धालु भक्तों ने जगह जगह अनेक व्यवस्था व स्वागत की तैयारी की है। 

 पालकी यात्रा में ग्राम सहित आसपास के क्षेत्र से भी श्रद्धालु बड़ी संख्या में सम्मिलित होते हैं ।पूरे नगर का भ्रमण कर बड़े साईं मंदिर पर शोभायात्रा पहुंचेगी ,जहां यज्ञ की पूर्णाहुति के बाद महाआरती आयोजित होगी   आरती पश्चात छप्पन भोग की प्रसादी एवं विशाल भंडारा प्रसादी में  सभी श्रद्धालु लाभ लेंगे ! मंदिर को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। जिसमें विद्युत सज्जा के साथ-साथ गुब्बारे और पुष्प व पत्तियों से भी आकर्षक रूप दिया गया है ।साई सेवा समिति के देवेन्द्र वाणी शुभम ने कहा कि  दोपहर बाद रक्तदान शिविर के साथ-साथ पौधरोपण कार्यक्रम  बड़ी संख्या में रखा गया है। जिसमें आए हुए मेहमानों व भक्तजनों द्वारा विशेष प्रजातियों के पौधे रोपे जाएंगे ।साथ साथ पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन का संकल्प  भी उपस्थित जनों के बीच दिलाया जाएगा । साथ ही नेत्रदान व रक्तदान के प्रति जनजागरण हेतु प्रसार सामग्री का विमोचन भी किया जाएगा ।

  देर शाम को बाबा का विशेष श्रंगार कर आरती वह महा प्रसादी की जाएगी ।रात्रि 8:00 बजे मंदिर परिसर में ही भजन कार्यक्रम भी स्थानीय कलाकारों द्वारा रखा गया है । रात्रि में शयन आरती के बाद समापन होगा । समिति ने सभी भक्तजनों से इस कार्यक्रम में दर्शन लाभ एवं सभी कार्यक्रमों में सम्मिलित होने के लिए आमंत्रण भी दिया है

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.