Type Here to Get Search Results !

दवा दुकान की आड में, नशा बेचने का धंधा दो पर पुलिस का शिकंजा


महासमुंद / जिले के मेडिकल स्टोर्स में नशोलो दवाओं का कारोबार जमकर फल-फूल रहा है। संचालक बिना पच बेधड़क दवाईयां बेच रहे हैं । इसका खुलासा बुधवार को बसना थाना क्षेत्र के दो मेडिकल स्टोर्स में पुलिस की छापामार कार्रवाई से हुआ। पुलिस ने संचालकों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर जांच में लिया है। पुलिस की छापा मार कार्रवाई के दौरान दोनों मेडिकल स्टोर्स से करीब साढ़े 8 हजार रुपए कीमत की नशीली दवाई, इंजेक्शन और नकदी जब्त कर संचालकों के खिलाफ नारकोटिक एक्ट 21 के तहत कार्रवाई की गई है। ज्ञात हो कि जिले दवाओं को खुलेआम बिक्री का यह पहला मामला नहीं है। इससे पूर्व भी जिले में नशीली दवा विक्रो के मामले सामने आ चुके हैं। इधर, मामले में जिला दवा विक्रेता संघ के सचिव अरशी अनवर का कहना है कि नशीली दवाईयों का अवैध कारोबार करने वालों पर कार्रवाई होनी चाहिए। ऐसा करने वालों को एसोसिएशन की ओर से किसी तरह कसंरक्षण देने की बजाए प्रशासन को कार्रवाई में सहयोग किया जाएगा।

केस-1=बसना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर बुधवार को भंवरपुर मोड़ स्थित अन्नपूर्णा मेडिकल स्टोर्स के संचालक लोकेश प्रधान को नशीली दवाई 525 नग एलफापेन कोमती 1260 220 नग एसीमेपिएशन टेबलेट, 14 नग टेमाडेल इंजेक्शन कीमती 328 बेचते हुए पकड़ा। उनसे बिक्री को रकम 5 सौ के साथ 4379 रुपए की दवाएं जब्त कर नारकोटिक एक्ट 21 के तहत कार्रवाई की।
केस-2= दूसरे मामले में बसना पुलिस ने शहर के जनपद चौक स्थित कर्मा मेडिकल स्टोर्स के संचालक को भी मुखबिर की सूचना पर बुधवार को नशीली दवाईयों की अवैध रुप से बिक्री करते हुए पकड़ा। उनसे 1725 नग एलप्रान कीमती 4120 होगी। रुपए और नकदी 7. सौ रुपए कुल 4840 रुपए जब्त कर नारकोटिक एक्ट 21 के तहत कार्रवाई की।
जानकारी मिलने पर पुलिस और ड्रग विभाग द्वारा संयुक्त कार्रवाई को गई है। मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है। नियमानुसार कार्रवाई होगी अवधेश भारद्वाज- ड्रग निरीक्षक बसना क्षेत्र
Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.