Type Here to Get Search Results !

महासमुंद सिंहासन खाली करो भाजपा ...! अब कांग्रेस की बारी है...!! पढ़ें पूरी खबर


 नगर पालिका के सभाकक्ष में 4 जुलाई को होगा शक्ति परीक्षण 

महासमुंद= महाराष्ट्र के उध्दव सरकार की तरह ही महासमुंद में भी भाजपा की शहरी सत्ता पर मण्डराते संकट के बादल गहराते ही जा रहे है। 

नगर पालिका में विपक्षी कांग्रेस द्वारा अध्यक्ष के विरूध्द लाये गये अविश्वास प्रस्ताव पर सम्मिलन के लिये 4 जुलाई 2022 की तारिख तय होने के बाद अब कांग्रेस ने फिर से भाजपा को जोर का झटका दिया है। भाजपा के दो पार्षद श्रीमती कमला बरिहा और श्रीमती सरला गोलू मदनकार आज 25 जून को कांग्रेस में शामिल हो गये। खास बात यह है कि, इस अवसर पर नगर पालिका में नेता प्रतिपक्ष श्रीमती राशि महिलांग के पति पूर्व नगर पालिका उपाध्यक्ष त्रिभुवन महिलांग भी आज जोगी कांग्रेस को तिलांजलि देकर कांग्रेस में शामिल हो गये है। विधायक और संसदीय सचिव ने दोनो पार्षदों सहित पूर्व पालिका उपाध्यक्ष को कांग्रेस का गमछा पहनाकर कांग्रेस प्रवेश कराया। संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने भाजपा पार्षदों के कांग्रेस प्रवेश करने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अध्यक्ष की कार्यशैली को लेकर पार्षदों में नाराजगी है। इसी वजह से उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। पहले भी कई पार्षदों ने कांग्रेस प्रवेश किया है। क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों से प्रभावित होकर पार्षदों ने कांग्रेस प्रवेश किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष बनना तय है। वही इस दौरान श्रीमती राशि महिलांग ने कहा कि, 4 जुलाई के पूर्व अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में पार्षदों की संख्या 25 के आकडे़ को छू लेगी। 

पालिका की समर भूमि में त्रिभुवन भी....बताना अप्रासंगिक नही होगा कि, जोगी कांग्रेस छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाली पूर्व नगर पालिका उपाध्यक्ष त्रिभुवन महिलांग राजनीति के मंजे हुये युवा रणनीतिकार माने जाते है। उनके पास दो-दो बार विधानसभा चुनाव लड़ने-लड़ाने का अनुभव तो है। तथा वे खुद तीन बार पार्षद बन चुके है। यही नही पूर्व में श्रीमती राशि महिलांग को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नगर पालिका का अध्यक्ष बनवाने में त्रिभुवन महिलांग महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर चुके है। इस लिये माना जा रहा है कि  नगर पालिका की राजनीति में इनकी एन्ट्री से कोई न कोई गुल अवश्य ही खिलेगा।

गणित में राजनीति मैथमेटिक्स में पालीटिक्स को तेल में पानी की तरह समझा जा सकता है। नगर पालिका का अंकगणित भी कुछ इसी तरह से गड्ड-मड्ड होते जा रहा हैं। चुनाव के बाद नगर पालिका मेें दलगत स्थिति इस प्रकार रही। भाजपा-14, कांग्रेस-8,जोगी कांग्रेस-2, आम आदमी पार्टी-1, निर्दलीय-5 । बाद में तीन निर्दलीय पार्षद और जोगी कांग्रेस के दो पार्षद कांग्रेस में शामिल हो गये। वही दो अन्य निर्दलीय पार्षदों ने भाजपा का दामन थाम लिया। अब आज फिर दो पार्षद भाजपा से टूटकर कांग्रेस में जुड गये है। जिससे भाजपा अल्पमत में आ गई है। अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि, भाजपा के कुछ और पार्षद भी बीजेपी को गुड-बाय कह सकते है।

त्रिलोचन साहू प्राची मोबाइल बड़े साजापाली को समस्त क्षेत्रवासियों की ओर से जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनाएं 
Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.